Posts

Showing posts with the label हेमा मालिनी

अकेली औरत की दो बेटियां

Image
-अजय ब्रह्मात्‍मज कभी ड्रीम गर्ल हेमा मालिनी हिंदी फिल्मों की नंबर वन हीरोइन थीं। उनकी फिल्मों के लाखों-करोड़ों दीवाने थे। हेमा मालिनी ने अपने करियर केउत्कर्ष के दिनों में दर्जनों सहयोगी स्टारों को भी अपना दीवाना बनाया, लेकिन शादी धर्मेन्द्र के साथ की। धर्मेन्द्र पहले से शादीशुदा थे। उन्होंने सुविधा के लिए धर्म बदल कर हेमा मालिनी से शादी तो कर ली, लेकिन उन्हें अपने घर नहीं ले जा सके। उनकी पहली पत्नी और बेटों ने हेमा मालिनी को परिवार में जगह नहीं दी। हेमा मालिनी शादी के बाद भी अकेली रहीं। अकेली औरत की जिंदगी जी। उन्होंने अपना घर बसाया, जहां धर्मेन्द्र सुविधा या आवश्यकता के अनुसार आते-जाते रहे। हेमा मालिनी और धर्मेन्द्र की प्रेम कहानी और दांपत्य के बारे में वे दोनों ही बेहतर तरीकेसे बता सकते हैं। बाहर से जो दिखाई पड़ता है, उससे स्पष्ट है कि हेमा मालिनी ने अकेले ही अपनी जिंदगी संवारी और पिता के साये से वंचित बेटियों ऐषा और आहना को पाला। सभी जानते हैं कि आज भी धर्मेन्द्र के परिवार और हेमा मालिनी के परिवार में सार्वजनिक मेलजोल या संबंध नहीं है। हेमा मालिनी ने अपने अभिनय करियर का उत्कर्ष देख

बेटी एषा को निर्देशित किया हेमा मालिनी ने

Image
-अजय ब्रह्मात्‍मज शाहरुख खान हेमा मालिनी को अपना पहला निर्देशक मानते हैं। पहली बार शाहरुख ने उनकी फिल्म दिल आशना है के लिए ही कैमरा फेस किया था। अब 19 सालों बाद हेमा ने टेल मी ओ खुदा के साथ फिर से निर्देशन की कमान संभाली है। इस बार हेमा के कैमरे के सामने उनकी बड़ी बेटी एषा देओल हैं। हेमा मालिनी कहती हैं, ''मुझे लगता है कि एषा को उसके टैलेंट के मुताबिक रोल नहीं मिले। वह ट्रेंड डांसर है और इमोशनल सीन भी अच्छी तरह करती है। मणि रत्नम की फिल्म युवा के छोटे से रोल में भी उसने अपनी प्रतिभा दिखाई थी। मैंने जब देखा कि वह गलत फिल्में कर और भी फंसती जा रही है तो मुझे सलाह देनी पड़ी। टेल मी ओ खुदा में एषा को आप नए अंदाज में देखेंगे। इस फिल्म में उसने डांस, एक्शन और इमोशन सीन किए हैं।'' हेमा पहले इस फिल्म से बतौर प्रोड्यूसर जुड़ीं। उन्होंने क्रिएटिव फैसलों में भी दखल रखा, लेकिन निर्देशन के लिए मयूर पुरी को चुना और उन्हें पूरी छूट दी। फिल्म के आरंभिक हिस्से देखने पर हेमा मालिनी को संतुष्टि नहीं मिली और उन्होंने निर्देशन की बागडोर अपने हाथों में ले ली। टेल मी ओ खुदा एक ऐसी लड़की की कह

दरअसल : आ रहे हैं विदेशी तकनीशियन

-अजय ब्रह्मात्‍मज पिछले हफ्ते मैं हेमा मालिनी की फिल्म टेल मी ओ खुदा के सेट पर था। जोधपुर के बालसमंद में शूटिंग चल रही है। मयूर पुरी निर्देशित इस फिल्म की कहानी चार शहरों में प्रवास करती है। जोधपुर में राजस्थान के हिस्से की शूटिंग हो रही थी, जिसमें एषा देओल, अर्जन बाजवा और चंदन सान्याल के साथ मधु और विनोद खन्ना हैं। इस सेट पर रेगुलर इंटरव्यू और कवरेज के दौरान दो व्यक्तियों ने ध्यान खींचा। एपल नामक कैमरामैन राजस्थान के हिस्से की फोटोग्राफी कर रहे थे और एलेक्स फिल्म के मेकअप आर्टिस्ट थे। दोनों विदेशी मूल के हैं। एलेक्स मलेशिया के हैं। मलेशिया में एक भारतीय वीडियो शूटिंग के समय उनका भारतीय यूनिट से संपर्क हुआ। उसके बाद एक-दो छोटे वेंचर में काम करने के बाद उन्होंने विवेक ओबेराय की फिल्म प्रिंस की और अभी टेल मी ओ खुदा का मेकअप डिपार्टमेंट देख रहे हैं। सेट पर मौजूद तमाम भारतीयों के बीच इन विदेशियों को आराम से अपना काम करते देख कर खुशी और गर्व हुआ। हिंदी समेत सभी भारतीय फिल्में अब इस ऊंचाई तक पहुंच गई हैं कि विदेशी आर्टिस्ट और तकनीशियन यहां बेहिचक काम खोज रहे हैं। टेल मी ओ खुदा में चार विदेश