सिनेमालोक : रणवीर सबसे आगे


सिनेमालोक 
रणवीर सबसे आगे 
-अजय ब्रह्मात्मज
रात का समय था.करीब 11 बज चुके होंगे. यशराज स्टूडियो में दिन की चहल-पहल समाप्त हो चुकी थी. वहां मुझे एक इंटरव्यू के लिए बुलाया गया था. एक फ़िल्म के हीरो की व्यस्तता की वजह से इंटरव्यू के लिए मुझे यही समय मिला था. हीरो की फिल्म रिलीज पर थी. शुक्रवार को रिलीज हो रही फिल्म के हीरो का इंटरव्यू रविवार को छप जाए तो पाठक और संपादक दोनों खुश होते हैं. इसी खुशी के लिए दिन भर की थकान के बावजूद उस हीरो के इंटरव्यू के लिए हां कहना ही पड़ा. बातचीत शुरू हुई . और ना जाने कब बेख्याली में मुझ से भूल हुई. इंटरव्यू दे रहे रणवीर सिंह ने मुस्कुराते हुए मुझे टोका,' सर जी,आप मुझे दो बार रणबीर बुला चुके हैं. मैं रणबीर हूं. कहीं आप मुझ से रणबीर के सवाल तो नहीं पूछ रहे हैं.'
झेंपते हुए सॉरी कहने के बाद मैंने इंटरव्यू जारी रखा. मुझे विश्वास नहीं हो रहा था कि ऐसी गलती हो सकती है. सामने बैठे एक्टर को मैं उसके प्रतिद्वंद्वी के नाम से बुला सकता हूँ. घर लौटने के बाद रिकॉर्डिंग सुनते ही एहसास हुआ कि यह तो भारी गलती है. फिर मैंने सोचा कि रणवीर को गुस्सा क्यों नहीं आया? वे चाहते तो बीच में ही इंटरव्यू छोड़ सकते थे. अगर यह इंटरव्यू लाइव होता तो श्रोता/दर्शक क्या कहते? अगली मुलाकात में रणवीर से माफी मांगने लगा. उन्होंने आदतन भींचते हुए कहा,' सर जी मुझे अभी और मेहनत करनी होगी. आप सभी के सवालों में जगह बना चुके रणबीर से कुछ बड़ा और सफल काम करना होगा. बड़ी कामयाबी देनी होगी.'

यह वाकया संजय लीला भंसाली की फिल्म 'गोलियों की रासलीला - रामलीला' के समय हुआ था. तब से रणवीर सिंह ने संजय लीला भंसाली के साथ तीन कामयाब फिल्में कर ली हैं. तीनों में उनकी नायिका दीपिका पादुकोण रहीं, जो अब उनकी जीवनसंगिनी बन चुकी हैं. रणवीर खुद बताते हैं कि 'गोलियों की रासलीला-रामलीला' के सेट पर दीपिका पादुकोण ने भा गई थीं. शूटिंग के दौरान नज़दीकियां बढ़ीं. रणवीर ने धैर्य से काम लिया और फिर दोनों में प्यार हुआ. कुछ सालों के अफेयर के बाद दोनों ने शादी कर ली. शादी के बाद रणवीर सिंह भारतीय रिवाज के मुताबिक दीपिका पादुकोण को अपने घर नहीं लाए,बल्कि उनके साथ रहने चले गए. पुरुष प्रधान समाज और फिल्म इंडस्ट्री में यह छोटी और सामान्य बात नहीं है. शादी के समारोहों में भी वे दीपिका का जिस तरीके से ख्याल रख रहे थे,वह काबिले तारीफ है.
रणवीर सिंह लगातार कामयाबी की सीढ़ियां चढ़ते जा रहे हैं. इस साल रिलीज हुई उनके फिल्म 'गली ब्वॉय' खूब सराही गई और कामयाब रही. इसके पहले पिछले साल की जनवरी और दिसंबर में रिलीज हुई उनकी फिल्मों ने रिकॉर्ड कमाई की. 2018 में उनकी दोनों फिल्मों (पद्मावत और सिमबा) की कुल कमाई 500 करोड़ से अधिक रही. फिल्म इंडस्ट्री में कमाई और कामयाबी ही किसी स्टार अभिनेता के स्टारडम और भाव में इजाफा होता है. इस लिहाज से रणवीर सिंह अभी सबसे आगे हैं. उन्होंने खानत्रयी (आमिर,शाह रुख और सलमान),अक्षय कुमार,वरुण धवन, अजय देवगन और रितिक रोशन सभी को पीछे छोड़ दिया है. वे अभी सबसे आगे हैं. अभी वे '1983  की तैयारियों में जुटे हैं. इसके अलावा करण जौहर की फिल्म 'तख्त' में वे शाहजहां के बेटे दारा शिकोह की भूमिका निभाएंगे.
हर मुलाकात में रणवीर सिंह की आत्मीयता जस की तस बनी रहती है. विक्रमादित्य मोटवानी की फिल्म 'लूटेरा' की रिलीज के बाद हुई अंतरंग बातचीत में रणवीर ने वादा करने के साथ भरोसा दिया था कि मुझ में कोई बदलाव नहीं आएगा. 'सिम्बा' के समय हुई आखिरी मुलाकात में मैंने महसूस किया कि उनकी गर्मजोशी और आत्मीयता में कोई फर्क नहीं आया है. हालांकि इस बीच वे सफलता के शिखर पर पहुंच चुके हैं.


Comments

Popular posts from this blog

लोग मुझे भूल जायेंगे,बाबूजी को याद रखेंगे,क्योंकि उन्होंने साहित्य रचा है -अमिताभ बच्चन

फिल्‍म समीक्षा : एंग्री इंडियन गॉडेसेस

तो शुरू करें