रोज़ाना : डबल रोल (अभिनय की रोचक परीक्षा)



रोज़ाना
डबल रोल
(अभिनय की रोचक परीक्षा)
-अजय ब्रह्मात्‍मज
वरुण धवन ने हाल ही में गुलजार की अंगूर देखी। संजीव कुमार और देवेन वर्मा के डबल रोल की यह फिल्‍म दर्शकों के बीच बहुत लोकप्रिय है। सारी जानकारियां होने पर भी इसे बार-बार देखना अच्‍छा लगता है। हर बार हंसी आती है। संजीव कुमार और देवेन वर्मा की जुगलबंदी दस फिल्‍म को यादगार बना चुकी है। वरुण धवन अने पिता डेविड धवन के साथ जुड़वां फिल्‍म कर रहे हैं। 20 साल पहले 1997 में आई सलमान खान की जुडवां खूब चली थी। डेविड धवन इसी फिल्‍म की रीमेक अपने बेटे वरुण धवन के साथ बना रहे हैं। वरुण ने अपनी तैयारी में हिंदी में बनी डबल रोल की कुछ फिल्‍में देखीं। उनमें गुलजार की अंगूर उन्‍हें इतना प्रभावित कर गई कि वे गुलजार से मिल कर अंगूर के निर्देशन के किस्‍से सुनना चाहते हैं। गुलजार ने उन्‍हें समय दिया और कुछ बताया तो उनके अभिनय में निखार आएगा।
डेविड धवन की जुड़वां रीमेक खुद ही किसी और फिल्‍म की कॉपी थी। यह वह दौर था,जब नकल ही असल हुआ करता था। बहरहाल,1992 में जैकी चान की फिल्‍म ट्वीन ड्रैगन आई थी। 1994 में उसी से प्रेरित होकर तेलुगू हैलो ब्रदर बनी थी। और 1997 में डेविड जी ने रुमी जाफरी की मदद इसका हिंदी रूपांतरण किया था। एक समय दोनों की जोड़ी ने लगातार कई हिट फिल्‍में दी थीं।
हिंदी फिल्‍मों में एक्‍टर डबल रोल की फिल्‍मों के लिए लालायित रहेत हैं। इस सदी में हिंदी फिल्‍मों के रिय‍लिस्टिक और शहरी होने के बाद ऐसी फिल्‍मों में दर्शकों और निर्देशकों की रुचि कम हो गई है। फिर भी पिछले दौर में सभी मशहूर अभिनेता और अभिनेत्रियों ने डबल रोल की फिल्‍में की हैं। यह उनके अभिनय की रोचक परीक्षा होती थी। दर्शक भी जिज्ञासु होते थे कि देखें कैसे निभाया है? कंप्‍यूटर जनित इमेजेज और वीएफएक्‍स के पहले साधारण और देसी तकनीक डबल रोल संभव किया जाता था। आठवें-नौवें दशक में कस्‍बों के सिनेमाघरों में डबल रोल देख दर्शक दांतों तले उंगली दबाते थे। डबल रोल की तुलना की जाती थी। उसी अभिनेता की एक रोल को बेहतर और दूसरे को कमतर बता जाता था।
हिंदी की लोकप्रिय डबल रोल फिल्‍मों में राम और श्‍याम,हम दोनों,सीता और गीता,चालबाज,अंगूर,सच्‍चा झूठा,डुप्‍लीकेट,डॉन आदि के नाम लिए जा सकते हैं। कुछ कलाकारों ने ट्रिपल और उससे भी अधिक राल की फिल्‍में कीं। हिंदी में एक ही फिल्‍म में सबसे अधिक रोल का रिकार्ड संजीव कुमार के नाम है। उन्‍होंने नया दिन नयी रात में नौ रोल निभाए थे और पसंद किए गए थे। कमल हासन ने तमिल फिल्‍म दशावतारम में दस रोल किए थे।
लंबे समय के बाद डेविड धवन की जुडवां में वरुण धवन को डबल रोल में देखना रोचक होगा,क्‍योंकि अब वीएफएक्‍स का जमाना है।

Comments

Popular posts from this blog

लोग मुझे भूल जायेंगे,बाबूजी को याद रखेंगे,क्योंकि उन्होंने साहित्य रचा है -अमिताभ बच्चन

फिल्‍म समीक्षा : एंग्री इंडियन गॉडेसेस

Gr8 Marketing turns Worst Movies into HITs-goutam mishra