Posts

Showing posts with the label निर्देशन के 25 साल

निर्देशन में राकेश रोशन के 25 साल

Image
-अजय ब्रह्मात्‍मज  राकेश रोशन का पूरा नाम राकेश रोशनलाल नागरथ है। संगीतकार पिता रोशन के पुत्र राकेश को छोटी उम्र से घर की जिम्मेदारी संभालनी पड़ी। पिता की मौत के वक्त उनकी उम्र मात्र 17 साल थी। वयस्क होने से पहले ही पारिवारिक स्थितियों ने उन्हें जिंदगी के चौराहे पर लाकर खड़ा कर दिया। उन्होंने पढ़ाई जारी रखने या पूना फिल्म इंस्टीट्यूट जाने की अपनी इच्छा का गला घोंट दिया और एस एस रवेल के सहायक निर्देशक बन गए। उन दिनों एच एस रवेल दिलीप कुमार और वैजयंतीमाला के साथ संघर्ष बना रहे थे। रवेल के आरंभिक प्रशिक्षण के बाद राकेश रोशन ने निर्देशक मोहन कुमार के साथ काम किया। मोहन कुमार के साथ उन्होंने अनजाना और आप आए बहार आई फिल्में कीं। राकेश रोशन की इच्छा कैमरे के सामने आने की थी। उन्हें टी प्रकाश राव के निर्देशन में बनी घर घर की कहानी में बतौर हीरो अवसर मिला। सीमा, पराया धन और मन मंदिर से उन्हें पहचान तो मिली, लेकिन हिंदी फिल्मों के कामयाब हीरो का रुतबा उन्हें नहीं मिला। वे फिल्में करते रहे। बीच में उन्होंने निगेटिव शेड के किरदार भी निभाए। बेहतरीन अवसर न मिलने से निराश होकर वे खुद फि…