Posts

Showing posts with the label साहब बीवी और गैंगस्‍टर

अब बीवी रोती-बिसूरती नहीं है-तिग्‍मांशु धूलिया

Image
-अजय ब्रह्मात्‍मज साहब बीवी और गैंगस्टर ़ ़ ़ इस फिल्म का नाम सुनते ही गुरुदत्त अभिनीत साहब बीवी और गुलामकी याद आती है। 1962 में बनी इस फिल्म का निर्देशन अबरार अल्वी ने किया था। इस फिल्म में छोटी बहू की भूमिका में मीना कुमारी ने अपनी जिंदगी के दर्द और आवाज को उतार दिया था। उस साल इस फिल्म को चार फिल्मफेअर पुरस्कार मिले थे। यह फिल्म भारत से विदेशी भाषा की कैटगरी में आस्कर के लिए भी भेजी गई थी। इस मशहूर फिल्म के मूल विचार लेकर ही तिग्मांशु धूलिया ने साहब बीवी और गैंगस्टरकी कल्पना की है। तिग्मांशु धूलिया के शब्दों में, ‘हम ने मूल विचार पुरानी फिल्म से ही लिया है। लेकिन यह रिमेक नहीं है। हम पुरानी फिल्म से कोई छेड़छाड़ नहीं कर रहे हैं। साहब बीवी और गैंगस्टरसंबंधों की कहानी है, जिसमें सेक्स की राजनीति है। यह ख्वाबों की फिल्म है। जरूरी नहीं है कि हर आदमी मुख्यमंत्री बनने का ही ख्वाब देखे। छोटे ख्वाब भी हो सकते हैं। कोई नवाब बनने के भी ख्वाब देख सकता है।इस फिल्म में गुलाम की जगह गैंगस्टर आ गया है। उसके आते ही यह आंसू और दर्द की कहानी रह जाती है। यह क्राइम और थ्रिलर है, जिसमें सारे…