Posts

Showing posts with the label जन्मदिन

अभिषेक बच्चन का जन्मदिन

आज अभिषेक का जन्मदिन है.पूरा बच्चन परिवार आज जयपुर में है,क्योंकि अभिषेक बच्चन वहाँ राकेश मेहरा की फिल्म दिल्ली-६ की शूटिंग कर रहे हैं.राकेश उन्हें छोड़ना नहीं चाहते थे और परिवार के अन्य सदस्य खाली थे लिहाजा तय हुआ की जन्मदिन जयपुर में ही मनाया जाये।

अभिषेक बच्चन को अपने पिता अमिताभ बच्चन की छवि की छाया से निकलने में पांच साल और १६ फिल्में लग गयीं.मशहूर पिता के बेटे होने का नुकसान अभिषेक को उठाना पड़ा है,लेकिन उस नुकसान की तुलना में फायदे अधिक हुए है.दूसरे ऐक्टर तो सवाल करते ही हैं न की अगर अभिषेक के पिता अमिताभ बच्चन नहीं होते तो क्या उन्हें १६ फिल्मों का मौका मिलता?जवाब एक ही होगा की नहीं मिलता।

इसके बावजूद अभिषेक अभी जिस स्थिति में हैं और उन्होंने जो थोड़ी जगह बनायीं है,उसमें उनकी मेहनत और लगन है.और फिर दर्शकों ने भी स्वीकार कर ही लिया.युवा के बाद से ही अभिषेक बच्चन की स्वतंत्र पहचान बनी.पिछले साल आई गुरु कथ्य के स्तर पर चाहे जैसी फिल्म हो,लेकिन ऐक्टर अभिषेक बच्चन के नज़रिये से देखें तो उन्होंने एक कठिन भूमिका को साकार किया था।

गुरु की बात आई तो चवन्नी आप को बताना चाहता है कि अभिषेक बच्…

बधाई विद्या...जन्मदिन की बधाई

Image
माफ़ करें.पहली बार ऐसा हुआ.न जाने कैसे इस पोस्ट का शीर्षक ही पहली बार पोस्ट हो पाया.शायद चवन्नी ने ही गफलत में कोई और बटन दबा दिया होगा।

आज विद्या बालन का जन्मदिन है.क्या आप ने बधाई भेजी?मीडिया ने विद्या के जन्मदिन पर कोई हो-हल्ला नहीं किया.चवन्नी की मानें तो विद्या अभी बिकाऊ वस्तु नहीं बनी हैं.यह विद्ता और उनके प्रशंसकों के लिए अच्छी बात है.बहुत बारीक़ से लकीर होती है.लोकप्रियता और बाज़ार के लिए उपयोगी होने में इसी लकीर से अंतर आता है.बाज़ार को लगता है कि विद्या अभी उत्पाद बेचने में उपयोगी नहीं हैं,इसलिए उनकी लोकप्रियता के बावजूद वह उन्हें तवज्जो नहीं देता.अगर बाज़ार महत्व नहीं देता तो मीडिया भी नज़रंदाज कर देता है।

विद्या से चवन्नी की मुलाक़ात है.परिणीता की रिलीज के समय ही यह मुलाक़ात हुई थी.जब भी कोई नयी फिल्म रिलीज होने को होती है तो उस फिल्म के स्टार और बाकी सदस्यों से पत्रकारों की मुलाक़ात करवाई जाती है.ऐसी मुलाकातों के लिए ८-१० पत्रकारों को एक साथ बिठा दिया जाता है और फिर घिसी-पिटी बातचीत होती है.मसलन यह रोल कैसे मिला?रोल के लिए कैसे तैयारी की?निर्देशक और नायक के साथ कैसी निभी?ऐसे स…

रणबीर कपूर को जन्मदिन की बधाई

Image
चवन्नी की मुलाकात रणबीर कपूर से हो गई.जी हां,उनका नाम हिंदी में रणबीर लिखा जाएगा.कुछ लोग रणवीर तो कुछ लोग रनबीर लिख रहे थे.कल चवन्नी ने उनसे पूछा तो उन्होंने अपना नाम रणबीर लिखा.और चवन्नी को आपको यह बताते हुए खुशी हो रही है कि आज यानी 28 सितंबर को रणबीर कपूर का जन्मदिन है. उन्हें जन्मदिन की बधाई.और हां,चैनल वालों की तरह बात करें तो आप यह याद रखिएगा कि चवन्नी ने सबसे पहने उनका सही नाम और उनके जन्मदिन के बारे में आप को बताया था.
रणबीर का आत्मविश्वास उनकी बातों से छलकता है.कपूर खानदान के इस लड़के को मालूम है कि उनसे लोगों की अपेक्षाएं बहुत ज्यादा हैं.
उन्हें मालूम है कि आरके बैनर के वारिस के तौर पर उन्हें प्रस्तुत किया जा रहा है.वे मानसिक रूप से इसके लिए तैयार हैं.छोटी सी मुलाकात में रणबीर ने भरोसा दिलाया कि आरके बैनर को सक्रिय किया जाएगा.रणबीर ने तो यह भी कहा कि एक दिन वह फिल्म निर्देशित भी करेगा.शायद आप नहीं जानते हों कि राज कपूर का पूरा नाम रणबीर राज कपूर था.ऋषि कपूर ने अपने बैटे को पिता का नाम दिया.चवन्नी चाहता है कि रणबीर अपने दादा का मुकाम हासिल करे.रणबीर की तैयारी अच्छी है और उसका द…