Posts

Showing posts with the label एसिड फैक्ट्री

फिल्‍म समीक्षा एसिड फैक्ट्री

विदेशी प्रेरणा (चोरी) से बनी फिल्मरेटिंग- ** -अजय ब्रह्मात्‍मज
विदेशी फिल्मों की थीम, प्रस्तुति और शैली से प्रेरित संजय गुप्ता ने समान स्वभाव के निर्देशक सुपर्ण वर्मा को एसिड फैक्ट्री के निर्देशन का मौका दिया। उनकी पिछली फिल्मों की तरह ही यह भी डार्क, स्पीड, थ्रिलर और एक्शन से भरी फिल्म है। ऐसी फिल्मों का एक दर्शक समूह भी है। इन्हें बड़े पर्दे पर एक्शन, चेज और एक्सीडेंट देखने में मजा आता है। एसिड फैक्ट्री ऐसे दर्शकों को ही ध्यान में रखते हुए बनायी गयी है। यह विदेशी फिल्म अननोन की भारतीय नकल है।केपटाउन में एकत्रित भारतीयों की इस कहानी में कोई अंडरव‌र्ल्ड सरगना है तो कोई पुलिस अधिकारी है। एक समृद्ध नागरिक भी है। विदेशी पृष्ठभूमि में बनी ऐसी फिल्मों में सारे पात्र बखूबी हिंदी बोलते हैं, जबकि अपने ही देश के पात्र अब अंग्रेजी बोलने लगे हैं। बहरहाल, एसिड फैक्ट्री में छह किरदार बेहोशी के आलम से जागते हैं तो अपनी याददाश्त खो बैठते हैं। उन्हें याद नहीं कि कौन दोस्त है और कौन दुश्मन? हमारी याददाश्त ही शायद हमें भला-बुरा बनाती है और दुश्मनी सिखाती है। अन्यथा हर इंसान सिर्फ जिंदा रहना चाहता है और…