Posts

Showing posts with the label २८ अक्तूबर

आख़िरी शुक्रवार,२८ अक्तूबर, २००७

साल का आख़िरी शुक्रवार चवन्नी को दुखी कर गया.कैसे?

अनुराग कश्यप और महेश भट्ट दोनों चवन्नी को प्रिय हैं.अनुराग के पैशन और समर्पण का चवन्नी कायल है.यही कारण है कि चवन्नी अनुराग की बातों को यहाँ लाता रहा है.आज अनुराग कश्यप ने बहुत निराश किया.रिटर्न ऑफ़ हनुमान के लेखक-निर्देशक हैं अनुराग कश्यप.इस फिल्म में वे पूरी तरह से निराश करते हैं.चवन्नी ने फिल्म देखी और बेहद उदास हो गया.आख़िर क्या सोच कर अनुराग ने यह फिल्म लिखी और निर्देशित की.और अगर की तो पूरा ध्यान क्यों नहीं दिया?यह फिल्म अनुराग कश्यप के नाम पर धब्बा हो गयी।

चवन्नी को महेश भट्ट अपनी साफगोई और बेलौस बयानों के कारन पसंद हैं.वे दो तरह की बातें नहीं करते.उनकी फिल्म शोबिज़ आज रिलीज हुई है.इसे किसी राजू खान ने निर्देशित की है.भट्ट कैंप से इतनी बुरी फिल्म की उम्मीद चवन्नी नहीं कर सकता.फिल्म मीडिया की भूमिका और रवैये पर सवाल उठाती है ,लेकिन सब कुछ इतना सतही और ऊपरी है कि सच्चाई की झलक भी नही मिल पाती।