दरअसल: पॉपुलर नामों के गेम हैं टीवी शो

-अजय ब्रह्मात्मज
पिछले दिनों तेजी से ऊपर आए मनोरंजन चैनल कलर्स ने अमिताभ बच्चन के साथ बिग बॉस के अगले सीजन की घोषणा की है। शो के लिए अमिताभ बच्चन की रजामंदी को कलर्स की बड़ी जीत के रूप में देखा जा रहा है। कयास लगाए जा रहे हैं कि बिग बॉस आरंभ होने के बाद टीवी के पॉप फिलास्फर बने बिग-बी को सुनने और देखने के लिए इस चैनल पर दर्शक टूट पड़ेंगे। यह भी उम्मीद की जा रही है कि उनकी वजह से इस शो में थोड़े ज्यादा पॉपुलर सेलिब्रिटी हिस्सा लेंगे। वैसे अभी तक किसी प्रतिभागी की आधिकारिक घोषणा नहीं हुई है।

कौन बनेगा करोड़पति-2 के बाद अमिताभ बच्चन फिर से टीवी पर लौटे हैं। उनके इस वापसी को एक चक्र के पूर्ण होने के रूप में देखा जा रहा है। बाजार और टीवी अधिकारियों को ऐसा लगता है कि इस बार वे अपनी मौजूदगी से टीवी शो को नई ऊंचाई पर ले जाएंगे। कालांतर में वह ऊंचाई नया मानदंड स्थापित करेगी। टीआरपी और लोकप्रियता की इस होड़ का कोई अंत नहीं दिखता। चैनलों की तरफ से कोशिश जारी है कि वे होड़ में आगे रहें। इसके लिए वे ज्यादा से ज्यादा फिल्मी सेलिब्रिटी का इस्तेमाल कर रहे हैं। टीवी के पुराने दर्शकों को याद होगा। वर्षो पहले दूरदर्शन पर हमलोग आरंभ हुआ था, तब उसे पेश करने के लिए अशोक कुमार आते थे। टीवी पर फिल्म स्टार की लोकप्रियता और छवि का वह पहला इस्तेमाल था। अशोक कुमार दादा मुनि के नाम से विख्यात थे। उनकी छवि एक संतुलित और समझदार बुजुर्ग की थी। उसके बाद जी टीवी के साथ सैटेलाइट चैनलों की शुरुआत हुई, तो फिल्मों के सेलिब्रिटी को टीवी शो का हिस्सा बनाकर पेश करने के नए प्रयोग आरंभ हुए। उन दिनों मोहन कपूर सांप और सीढ़ी नाम के शो करते थे। उसमें वे फिल्मी हस्तियों को ले आते थे। बाद में शेखर सुमन मूवर्स और शेकर्स लेकर आए। फिल्म कलाकारों में शेखर ने सबसे पहले टीवी शो को अपनाया। कहा जा सकता है कि उस समय उनके पास फिल्में नहीं थीं और उन्होंने करियर के विकल्प के रूप में टीवी को चुना, लेकिन उसके बाद किरण खेर, शत्रुघ्न सिन्हा और महेश भट्ट सरीखे लोग बेहिचक टीवी से जुड़े। कौन बनेगा करोड़पति के लिए अमिताभ बच्चन ने जब पहली बार हामी भरी थी, तब वे भी लगभग बेरोजगार थे। एबीसीएल के गलत फैसलों से उन्हें नुकसान हुआ था और उन पर कर्ज चढ़ गए थे। फिल्मी करियर में ठहराव आ चुका था। लंबे समय तक पशोपेश में रहने के बाद वे टीवी शो के लिए तैयार हुए थे। सच कहें, तो उन्हें भी उम्मीद नहीं थी कि टीवी पर अवतरित होने के बाद उनकी लोकप्रियता में उछाल आएगा। राकेश मेहरा की फिल्म अक्स के लिए उन्होंने फ्रेंच दाढ़ी का गेटअप लिया था। कंटीन्यूटी की समस्या और नई इमेज की जरूरत के बीच मेल बिठाते हुए कौन बनेगा करोड़पति में वे उसी गेटअप में आए और संयोग देखिए कि स्टाइल आइकॉन बन गए।

अमिताभ बच्चन के बाद टीवी शो में फिल्मों के सक्रिय कलाकारों के आने का तांता लग गया। दर्शकों ने शाहरुख खान और सलमान खान छोटे-बड़े कलाकार, निर्देशक और संगीत निर्देशकों को विभिन्न टीवी शो की मेजबानी करते देखा है। पिछले साल अक्षय कुमार खतरों से खेलने आए और इस साल ज्यादा खतरनाक स्टंट के साथ लौटे। अभी अमृता राव परफेक्ट ब्राइड में आ रही हैं। चर्चा है कि सोनी टीवी के एक शो के लिए माधुरी दीक्षित ने भी हां कर दी है। विदेश की तरह भारत में टीवी शो के अपने स्टार नहीं बन सके हैं। ऐसा कोई भी व्यक्ति नहीं है, जो टीवी से ही आकर सेलिब्रिटी बन गया हो। अभी हम फिल्मों के पॉपुलर स्टार पर ही निर्भर हैं और अगले कुछ वर्षो तक इसमें फेरबदल की संभावना नहीं दिखती।


Comments

AJAYJI, BAAT AAPKI SAHI HAI AUR AMITABH BACHHAN KA BIG BOSS KAISA HOGA, KYA KUCHH NAYA ITIHAS LIKH PAYEGA YA UNKI KAI FILMON KI TARAH FUSSS... HO JAYEGA, ABHI KAHNA KATHIN HAI PARANTU UNKA ABHI BHI KOI SAANI NAHI, GAZAB KI PRASTUTI HOTI HAI UNKI. BESABRI SE INTZAR KAR RAHE HAIN HUM BHI.
Anonymous said…
:)

Popular posts from this blog

लोग मुझे भूल जायेंगे,बाबूजी को याद रखेंगे,क्योंकि उन्होंने साहित्य रचा है -अमिताभ बच्चन

फिल्‍म समीक्षा : एंग्री इंडियन गॉडेसेस

Gr8 Marketing turns Worst Movies into HITs-goutam mishra