ताजिंदगी 27 साल का रहूं मैं-सलमान खान


-अजय ब्रह्मात्मज
ऐसा कम होता है। जीवन के किसी भी क्षेत्र में सीनियर बाद की पीढ़ी की खुले दिल से तारीफ नहीं करते। सलमान खान इस लिहाज से भिन्न हैं। वे अपनी फिल्मों में नई प्रतिभाओं को मौका देते और दिलवाते हैं। पिछली मुलाकात में उन्होंने शुरुआत ही नए और युवा स्टारों की तारीफ से की। फिल्मों की रिलीज के समय उनके अपार्टमेंट गैलेक्सी के पास स्थित महबूब  स्टूडियो उनका दूसरा घर हो जाता है। एक अस्थायी कैंप बन जाता है। उनके सारे सहयोगी तत्पर मिलते हैं। यहीं वे मीडिया के लोगों से मिलते हैं। पिछले कुछ सालों से यही सिलसिला चल रहा है। ‘किक’ के लिए हुई इस मुलाकात में सलमान खान ने सबसे पहले अर्जुन कपूर ,आलिया भट्टऔर वरुण धवन समेत सभी नए टैलेंट की तारीफ की। उन्होंने अपने अनुभव से कहा कि वे खुले मिजाज के हैं। बातचीत और मेलजोल में किसी प्रकार का संकोच नहीं रखते। मैंने देखा है कि वे आपस में एक-दूसरे की खिंचाई भी करते हैं। खिल्ली उड़ाते हैं। मेरी पीढ़ी में केवल मैं हंसी-मजाक करता हूं। दूसरे तो सीरियस रहते हैं। अपनी पीढ़ी की बातें करते समय उन्होने जाहिर किया कि संजू यानी संजय दत्त के साथ उनकी ऐसी दोस्ती रही है। बाकी से भी मित्रता है,लेकिन वैसी अंतरंगता नहीं है।
    सलमान ने अपने दर्शकों से आग्रह किया कि वे ‘किक’ के टिकट ब्लैक में न खरीदें और न ही पायरेटेड डीवीडी पर घर में देखें। वे सिनेमाघरों में जाएं और सामान्य टिकट के लिए थोड़ा इंतजार कर लें। फस्र्ट डे फस्र्ट शो देखने के चक्कर में ब्लैक में डेढ़ हजार रुपए में टिकट खरीदने का कोई मतलब नहीं है। ब्लैक में खर्च किया दर्शकों का पैसा किसी निर्माता के पास नहीं आता। सोम-मंगल को देखने से कम पैसे खर्च होंगे। मेरी या किसी और की फिल्म हो। आप सोचो और फिर देखो। ‘किक’ में सलमान खान ने अपने लुक पर भी काम किया है। मास्क के अलावा फ्रेंच दाढ़ी भी रखी है। यह फैसला साजिद नाडियाडवाला का है। सलमान ने बताया, साजिद ने मुझे मेरी छह-सत साल पुरानी तस्वीर दिखाई। उसमें मैंने गोटी रखी थी। उन्हें वह लुक अच्छा लगा। ‘हर दिल जो प्यार करेगा’ के समय मैंने उस लुक की होर्डिंग जुहू में लगवाई थी। मजेदार बात है कि फिल्म में कहीं भी मेरा वैसा लुक नहीं था। बहरहाल,साजिद ने सोचा की डेविड का लुक ऐसा रखते हैं और देवी का लुक तो नार्मल रहेगा। मास्क का आयडिया भी साजिद का था। देवी करी ड्रेसिंग स्टायल भी अलग है। वह जींस और कुर्ते में रहता है।
     कुछ सालों पहले सलमान खान ने फैसला किया था कि वे अब दोस्ती-यारी में फिल्में नहीं करेंगे। क्या उन्होंने साजिद नाडियाडवाला के लिए उस फैसले को बदला? इस सवाल पर सलमान की परिचित हंसी फूट पड़ी। उन्होंने हंसते हुए कहा,यह प्रोफेशनल फैसला है। वैसे साजिद मेरे पुराने दोस्त हैं,लेकिन दोस्ती में हम दोनों इतनी राशि का रिस्क नहीं ले सकते। फिल्म बिजनेस में थोड़ी भी कमजोर हुई तो लोग साजिद को कोसेंगे। साजिद के लिए यह परीक्षा की घड़ी है। निर्माता होना और बात है। वे इस फिल्म के निर्देशक भी हैं। अरबाज और सोहेल के साथ भी इसलिए फिल्म नहीं करता कि वे मेरे भाई हैं। हमलोग बहुत मेहनत करते हैं। इस फिल्म में तो रिलीज के दस दिनों पहले तक हम कुछ न कुड जोड़ते रहे हैं। शुक्रवार को सब पता चल जाएगा। हां,देख लेंगे,संभाल लेंगे,तू है न जैसे प्रपोजल की फिल्में अब नहीं करता। फिल्म लिख ली गई हो और पूरी फिल्म का खाका सामने हो तभी हो करता हूं। अभी कंपीटिशन बढ़ गया है।
    सलमान खान यह तो मानते हैं कि उम्र बढऩे के साथ उन्हें भी सीनियर एक्टर की तरह कैरेक्टर रोल में जाना पड़ेगा। उन्होंने शरारती मुस्कान के साथ जोड़ा,यह देखना रोचक होगा कि हम तीनों में से कौन पहले कैरेक्टर रोल में जाता है। मैं 27 दिसंबर को पैदा हुआ हूं। मेरी उम्र हर साल 27 दिसंबर को 27 की हो जाती है। मैं तो हमेयाा 27 की उम्र में ही रहना चाहता हूं। तो क्या 2027 तक आप हीरो ही रहेंगे? सलमान ने 27 से 14 घटा कर देखा। क्या कह रहे हैं? अभी से सिर्फ 13 साल और? ना ना कम से कम 27 साल और दें मुझे। इतने दिनों तक तो मैं दर्शकों का चहेता बने रहना चाहता हूं।

Comments

Popular posts from this blog

लोग मुझे भूल जायेंगे,बाबूजी को याद रखेंगे,क्योंकि उन्होंने साहित्य रचा है -अमिताभ बच्चन

फिल्‍म समीक्षा : एंग्री इंडियन गॉडेसेस

Gr8 Marketing turns Worst Movies into HITs-goutam mishra