काटी चिकोटी दीया के...

चवन्नी चटखारे लेने के लिए यह सच्चा किस्सा नही सुना रहा है.हुआ यों कि संजय गुप्ता गोआ में अपनी नयी फिल्म अलीबाग की शूटिंग कर राहे थे.आम तौर पर आउटडोर शूटिंग में पारिवारिक माहौल रहता है.आप ने सुना भी होगा,फिल्म स्टार अपनी बातचीत में हमेशा कहते हैं कि फैमिली जैसा माहौल था.ऐसे ही फैमिली माहौल में दिन भर kee शूटिंग से थकी-हारी दीया मिर्ज़ा स्वीमिंग पुल में नहा रही थीं.पानी थकान दूर करता है.उन्हें क्या पता था कि स्वीमिंग पुल में आदमी की शक्ल में मगरमच्छ घुस आया है.रोहित राय नाम है इस मगरमच्छ का.दीया आराम से पानी के छापाके ले रही थीं,तभी पीछ्हे से रोहित राय आये और उनहोंने दीया मिर्ज़ा के नितम्ब में चिकोटी काट ली.दीया समझ नही पायीं.दीया ने विरोध किया और पुल से निकल आयीं.उनहोंने शोर तो नही मचाया ,लेकिन यह बात फैल गयी.चश्मदीद लोगों ने पूछा तो बेशर्म रोहित ने कह कि दीया के नितम्ब में है क्या कि मैं चिकोटी काटूंगा।
चवन्नी इस प्रसंग के जरिये आप को बताना चाहता है कि फिल्म इंडस्ट्री की हीरोइनें भी सुरक्षित नही है.उन्हें आये दिन हीरो,निर्माता और निर्देशक के हवस का शिकार होना पड़ता है.आश्चर्य है कि अभिनेत्रियाँ रपट नहीं लिख्वातीं.इस मामले में भी दीया नही चाहती कि ज्यादा चर्चा हो.संजय गुप्ता भी मामले को दबाने कि फिक्र में हैं.कोई भी रोहित को नहीं फटकार रहा है.सभी चाहते हैं कि मामला दब जाये.देखें संजय दत्त क्या करते हैं।
दीया पहली और आख़िरी शिकार नही हैं.फिल्म इंडस्ट्री में रोहित जैसे मर्दों की कमी नही है.उन्हें लगता है कि औरतों के साथ सोना ही मर्दानगी है.






Comments

Udan Tashtari said…
अफसोसजनक..मगर सुनते हैं कि इस तरह की घटनायें फिल्म इंडस्ट्री में आम हैं.

Popular posts from this blog

फिल्‍म समीक्षा : एंग्री इंडियन गॉडेसेस

लोग मुझे भूल जायेंगे,बाबूजी को याद रखेंगे,क्योंकि उन्होंने साहित्य रचा है -अमिताभ बच्चन

लंदन से इरफ़ान का पत्र